जौनपुर लोक सभा प्रत्याशी घोषित होते ही,मायूस हुए टिकट की कतार मे खङे नेता

मठाधीशों का परिक्रमा करते रहे जिले के छोटे-बड़े नेता,काम नहीं आया निषाद रथ,न ही किसान रथ

JAUNPUR POLITICS । जौनपुर लोक सभा प्रत्याशी का टिकट शनिवार की शाम को घोषित होते ही टिकट चाहने वाले उद्योगपति ज्ञान प्रकाश सिंह, पूर्व आईएएस अभिषेक सिंह,पूर्व सांसद एवं पूर्व प्रत्याशी डॉ.के.पी.सिंह, डॉ हरेंद्र सिंह, शतरुद्र प्रताप सिंह, डॉ क्षितिज शर्मा तथा दल बदल कर टिकट चाहने वाले कुंवर वीरेंद्र प्रताप सिंह,पूर्व विधायक सुषमा पटेल सहित विभिन्न दावेदारों को मायूसी हाथ लगी।

विदित हो कि उद्योगपति ज्ञान प्रकाश सिंह ने 2020 कोरोना काल से ही लगातार जनपद जौनपुर में लोगों की सेवा करके आम जनमानस के दिलों में अपना महत्वपूर्ण स्थान बना लिया था। राम मंदिर में भारी-भरकम चंदा देना हो या जौनपुर में शांतनु महाराज की राम कथा के माध्यम से माहौल बनाने का भरपूर प्रयास किया। दूसरी तरफ पूर्व आईएएस अभिषेक सिंह ने जनपद में मुंबई से पोर्न स्टार शनि लियोनी समेत विभिन्न सेलिब्रिटी को बुलाकर विभिन्न कार्यक्रम करके लोगों में अपना प्रभाव स्थापित करने का प्रयास किया। युवाओं को प्रेरित करने के लिए विभिन्न स्थानों पर मोटरसाइकिल व स्कूटी वितरित की गई।

साथ ही साथ अयोध्या में लोगों को दर्शन के लिए निषाद रथ चलवाया। किसानो के लिए किसान रथ आदि विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम करके लोगों को अपनी तरफ आकर्षित करने का प्रयास किया। जिले के तमाम नेताओं ने जमीनी स्तर पर काम किया लेकिन उनके हाथ मायूसी ही लगी काफी नेताओं ने जौनपुर से लेकर दिल्ली गुजरात महाराष्ट्र राजस्थान की के मठाधीशों की परिक्रमा की लेकिन सफलता नही मिली। उधर पूर्व गृह राज्य मंत्री कृपाशंकर सिंह की मुलाकात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से होती है सारा खेला वही हो गया और पीएम के संकेत पर उन्हें प्रत्याशी घोषित कर दिया गया।

विभिन्न दावेदारों ने होर्डिंग से पूरे जनपद को पाट दिया। टिकट चाहने वाले दावेदार जौनपुर में ही जोर लगाते रहे, किंतु लेकिन टिकट ले उड़े महाराष्ट्र के पूर्व गृह राज्यमंत्री कृपा शंकर सिंह। जनपद के सहोदरपुर के निवासी तथा महाराष्ट्र में कांग्रेस से अपनी राजनीति की शुरुआत करने वाले कृपा शंकर सिंह का महाराष्ट्र की राजनीति में उत्तर भारतीयों पर काफी प्रभाव है, किंतु जनपद की राजनीति में अभी तक उन्हें कोई विशेष सफलता नहीं मिली थी।उनके भाई श्यामराज सिंह एक बार जिला पंचायत सदस्य रह चुके हैं। दूसरी बार वे जिला पंचायत सदस्य का चुनाव भी हार चुके हैं।

विधानसभा चुनाव 2022 में जनपद जौनपुर में जहां कुल 9 विधानसभा में कल 20 लाख 7554 मत पड़े। सपा गठबंधन को 799481 मत प्राप्त हुए, जो कुल पड़े मतों का 39.82% था। वहीं भाजपा गठबंधन को 696106 मतप्राप्त हुए जो कुल पड़े मतों का 34.67 प्रतिशत था। बसपा को 324464 मत प्राप्त हुए,जो कल पड़े मतों का 16.21%था।

मल्हनी से निर्दल प्रत्याशी के रूप में इस विधानसभा चुनाव में मैदान में उतरे धनंजय सिंह को 79830 मत प्राप्त हुए। इससे सिद्ध होता है की धनंजय सिंह किसी भी दल या निर्दल प्रत्याशी के रूप में मैदान में उतरते हैं तो जनपद का राजनीतिक समीकरण बदल सकता है। लोकसभा चुनाव 2024 में इंडिया गठबंधन एवं बसपा के प्रत्याशियों की घोषणा के बाद ही जौनपुर लोक सभा की राजनीतिक तस्वीर साफ होगी।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments