वैद्य वासुदेव मिश्र के आदर्शों पर चलने की जरूरत:- अनिल उपाध्याय

भारती विद्यापीठ में वैद्य मनाया गया वैद्य जी का निर्वाण दिवस

खेतासराय (जौनपुर)  कस्बा स्थित भारती विद्यापीठ के संस्थापक पूज्य वैद्य वासुदेव मिश्र के निर्वाण दिवस को संस्थापक दिवस के रूप में बुधवार को मनाया गया। जिसमें अतिथि के रूप में आदर्श भारती महाविद्यालय के प्रबंधक अनिल कुमार उपाध्याय रहे। कार्यक्रम का शुभारंभ वैद्य जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर किया गया। महाविद्यालय एवं वासुदेव तपेश्वरी गर्ल्स इण्टर कॉलेज के छात्र-छात्राओं ने निर्गुण भजन इत्यादि के माध्यम से कार्यक्रम को आगे बढ़ाया। कार्यक्रम में प्राचार्य विनय कुमार सिंह ने कहा वैद्य जी की मनोविनोदपूर्ण शैली का अनुभूत चित्रण प्रस्तुत किया।

इस दौरान कार्यक्रम में प्रधानाचार्या सुनीता मिश्रा ने वैद्य जी आदर्शों पर चलने हेतु लोगों को प्रेरित किया। सत्यम उपाध्याय ने भी वैद्य जी के सादगीपूर्ण जीवन के बारे में विस्तार से बताते हुए उनका परमार्थी स्वरूप का वर्णन किया एवं बड़ा ही भावपूर्ण गज़ल प्रस्तुत किया। डॉ. धर्मराज पाण्डेय ने वैद्य जी के साथ व्यतीत पल का अपना अनुभव को साझा किया। अंत में वैद्य जी द्वारा स्थापित संस्थाओं के उत्तरोत्तर विकास में सर्वदा तत्पर पर प्रकाश डालते हुए अतिथि प्रबंधक अनिल कुमार उपाध्याय ने अपने सम्बोधन में गिरती हुई शिक्षा की गुणवत्ता पर चिंता जाहिर करते हुए वैद्य जी के आदर्शों पर चलने हेतु लोगों को प्रेरित किया। इस मौके पर आर्थिक रूप से कमजोर छात्राओं को वी. के. उपाध्याय एन्ड संस के द्वारा स्वेटर वितरण किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे डॉ. उमादत्त मिश्र ने अपने विचार प्रस्तुत कर आगन्तुको के प्रति आभार व्यक्त किया। कार्यक्रम का सञ्चालन डॉ. अजय कुमार तिवारी ने किया। इस अवसर पर मुन्शी चौहान, आलोक श्रीवास्तव, डॉ. चन्द्रवीर सिंह, अखिलेश चन्द्र मिश्र, डॉ. श्यामजीत पाण्डेय, डॉ. विजय कुमार पाण्डेय, विकास पाण्डेय समेत आदि लोग उपस्थित रहे।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments