वित्तीय साक्षरता का ज्ञान सभी के लिए आवश्यक:प्रोफेसर रीता सिंह

जौनपुर जनपद के अग्रणी शिक्षण संस्थान तिलकधारी स्नाकोत्तर महाविद्यालय में शिक्षक शिक्षा विभाग एवं नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ सिक्योरिटीज मार्केट (सेबी) के संयुक्त तत्वाधान में ‘ कोना-कोना शिक्षा’ कार्यक्रम के अंतर्गत एकदिवसीय वित्तीय साक्षरता कार्यशाला का आयोजन किया गया। जिसमें एम.एड्. प्रथम तृतीय सत्र के छात्रों ने प्रतिभाग किया। कार्यक्रम का प्रारंभ मां सरस्वती के चरणों में दीप प्रज्वलन एवं पुष्पांजलि के साथ हुआ। कार्यशाला को संबोधित करते हुए बी.एड. के विभागाध्यक्ष प्रोफेसर अजय कुमार दुबे ने कहा कि वित्तीय साक्षरता वर्तमान में सभी के लिए प्रासंगिक एवं आवश्यक है।

कार्यशाला में सेबी की तरफ से संदर्भ दाता के रूप में श्री चंद्रकेतु सिंह एवं श्रीमती निधि सिंह ने विद्यार्थियों को दैनिक जीवन में वित्तीय प्रबंधन एवं महत्व को रेखांकित करते हुए निवेश एवं जोखिम के विविध पहलुओं से अवगत कराया। आपने शेयर मार्केट, वित्तीय प्रबंधन एवं वित्तीय जागरूकता से जुड़े हुए विविध तकनीकी पक्षों पर विस्तृत रूप से व्याख्यान प्रस्तुत किया। कार्यशाला में महाविद्यालय की मुख्य अनुशास्ता प्रोफेसर रीता सिंह ने कहा कि जीवन मे सजगता और वित्तीय जानकारी के विविध पहलुओं का ज्ञान होना आवश्यक है । डॉ प्रशांत कुमार पांडे ने कार्यशाला में कहा कि वित्तीय प्रबंधन दैनिक जीवन में अत्यंत आवश्यक है जिसके लिए वित्तीय साक्षरता अत्यंत आवश्यक है। कार्यशाला संयोजन एवं संचालन डॉ वैभव सिंह ने किया। कार्यशाला में प्रो० श्रद्धा सिंह, डॉ अरविंद कुमार सिंह, डॉ० गीता सिंह, डॉ० वंदना शुक्ला एवं डाॅ० सुलेखा सिंह, डॉ सीमांत कुमार राय ने भी संबोधित किया। कार्यशाला के अंत में श्री चंद्रकेतु सिंह ने सभी के प्रति आभार व्यक्त किया ।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments