JAUNPUR:352 सफल छात्रों में सबसे अधिक 40 बच्चे सुईथाकला से उत्तीर्ण

JAUNPUR NEWS सुईथाकला जौनपुर। राष्ट्रीय आय एवं योग्यता आधारित परीक्षा 2024 -25 में जनपद में 352 सफल छात्रों में से सबसे अधिक 40 बच्चे सुईथाकला से उत्तीर्ण हुए हैं।इस वर्ष जनपद में उच्च प्राथमिक विद्यालय सुईथाकला कला प्रथम स्थान प्राप्त करके अपना जलवा कायम रखा है। शिक्षा के क्षेत्र में यह विकासखंड क्षेत्र हमेशा से अग्रणी रहा है ।विकासखंड क्षेत्र अंतर्गत उच्च प्राथमिक विद्यालय सुईथाकला से जनपद में सर्वाधिक12 बच्चे ,कंपोजिट विद्यालय डीह असरफाबाद के11,उच्च प्राथमिक विद्यालय अशोकपुर कला 6,पूरा संभलशाह के 5,अरसिया के 3 जहरूद्दीनपुर के 2 तथा भैंसौली के एक बच्चे सफल हुए हैं।

इस प्रकार क्रमशः उच्च प्राथमिक विद्यालय सुईथाकला प्रथम तथा कंपोजिट विद्यालय डीह असरफाबाद ने जनपद में द्वितीय स्थान हासिल करके क्षेत्र का सम्मान जनपद स्तर पर बढ़ाया है। उच्च प्राथमिक विद्यालय अशोकपुर कला ने विकासखंड क्षेत्र में तीसरा स्थान प्राप्त करके क्षेत्र का सम्मान विकासखंड स्तर और जिले स्तर पर बढ़ाया है ।इस सफलता पर बीएसए डॉ गोरखनाथ पटेल ने प्रधानाध्यापकों पारसनाथ यादव, दुष्यंत मिश्रा ,सतीश सिंह ,इमरान अंसारी ,ओमप्रकाश पांडेय ,झगड़ु राम गुप्ता,प्रीति सिंह सहित शिक्षकों की पूरी टीम, छात्र-छात्राओं और उनके अभिभावकों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं दी हैं।

बीएसए JAUNPUR ने कहा कि अन्य विकासखंड क्षेत्र सुईथाकला से प्रेरणा लें।उन्होंने विश्वास जताया कि अन्य ब्लॉक के विद्यालय भी अधिक से अधिक संख्या में प्रतियोगी परीक्षाओं में बच्चे सफल होकर JAUNPUR जनपद ही नहीं बल्कि प्रदेश में अपनी पहचान बढ़ाएंगे। उन्होंने कहा कि प्रतियोगी परीक्षाओं में सुईथाकला ने अपना कीर्तिमान स्थापित किया है। डॉ.पटेल ने कहा कि शैक्षिक दृष्टि से जनपद की पहचान प्रदेश स्तर पर बरकरार रखना शिक्षकों की मेहनत और समर्पण बच्चों और अभिभावकों के संयुक्त प्रयास से ही संभव है। उन्होंने बच्चों शिक्षकों और अभिभावकों से आपसी तालमेल और समन्वय स्थापित करने की अपील की।खंड शिक्षाधिकारी राजेश कुमार वैश्य ने बच्चों की सफलता पर प्रसन्नता व्यक्त की ।

उन्होंने कहा कि इससे विकासखंड क्षेत्र का गौरव जनपद में बढ़ा है। सरकारी स्कूलों में अध्यनरत क्षेत्र के बच्चों, शिक्षकों और अभिभावकों में आत्मविश्वास बढ़ा है।विद्यालयों के शिक्षक शासन और प्रशासन की मंशा पर खरा उतर रहे हैं। गरीब और मध्यम श्रेणी के तबके के लोगों के शैक्षिक और सामाजिक जीवन स्तर को ऊंचा कर रहे हैं। उन्होंने अन्य विद्यालयों के शिक्षकों और बच्चों को सफल विद्यालयों के बच्चों से प्रेरणा लेने की बात कही। श्री वैश्य ने कहा कि अन्य छात्र-छात्राओं में इससे एक प्रतिस्पर्धात्मक माहौल बनेगा। इस उपलब्धि से बच्चों शिक्षकों और अभिभावकों में भारी उत्साह है । सरकारी विद्यालयों में बच्चों के अभिभावकों को अपने बच्चों के कैरियर और उज्जवल भविष्य की संभावना प्रबल हो रही है ।डॉ उमेश चंद्र तिवारी गुरुजी ने खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा कि शिक्षा के क्षेत्र में सुईथाकला ब्लॉक जिले और प्रदेश के मानसिक पटल पर स्थापित है यह पूरे क्षेत्र के लिए गर्व का विषय है। शिक्षकों के अपने उत्तरदायित्व के ईमानदारी पूर्वक निर्वहन अभिभावकों के प्रदान किए गए शिक्षा के प्रति सकारात्मक माहौल और बच्चों के कठिन परिश्रम ने सरकारी स्कूलों के प्रति सोच व नजरिया बदल दिया है।शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष अमित सिंह, ब्लॉक अध्यक्ष डॉ रणंजय सिंह, ब्लॉक महामंत्री उमेश चंद्र यादव, शिक्षक संघ के ब्लॉक अध्यक्ष सुधाकर सिंह, ब्लॉक महामंत्री डॉ निशकांत ययादव, ब्लॉक कोषाध्यक्ष इंद्रसेन तिवारी आदि लोगों ने शिक्षकों और बच्चों सहित उनके माता-पिता को बधाई देते हुए उज्जवल भविष्य की कामना की।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments