गंगा समग्र ने किया निषाद राज जयन्ती गोष्ठी का आयोजन

गंगा समग्र ने किया निषाद राज जयन्ती गोष्ठी का आयोजन

जौनपुर ।गंगा समग्र द्वारा महाराज निषाद राज जयन्ती पर गोष्ठी समारोह का आयोजन नव दुर्गा मंदिर, विशर्जन घाट पर किया गया‍‌ । इस अवसर पर मुख्य वक्ता माननीय अम्बरीष जी, प्रान्त संगठन मंत्री, काशी प्रान्त, ने बताया कि जब-जब राष्ट्र पर किसी भी संकट का आभाष हुआ तब-तब राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ ने उसकी चिन्ता करते हुए अपने विभिन्न संगठनो के माध्यम से उस संकट के निवारण के लिए आगे आया। जैसा कि विदित हो २१वीं सदी में चारों तरफ जल की बड़ी विकट समस्या है, नदियाँ एवं अन्य जल श्रोत सूख रहे है, ऐसे में गंगा समग्र जो कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ का ही एक संगठन है, राष्ट्रीय स्तर पर लोगो के मध्य जल संरक्षण के लिए जन-जागरण का कार्य कर रहा है । महाराज निषाद राज जिनका जन्म वैशाख शुक्ल पंचमी को माना जाता है, जो प्रभु श्री राम के सखा एवं उनके अनन्य भक्त थे और वनगमन के दौरान माता सीता एवं लक्षमण जी सहित गंगा पार भी उतरा । उनकी बस एक ही शर्त थी कि मै तो आपको गंगा पार उतार दूंगा किन्तु आप मुझे भव-सागर से पार लगा देना। ऐसे निश्छल ह्रदय के महाराज निषाद राज आज भी हम सभी के आदर्श और प्रेरणा के श्रोत है। ऐसे में समाज का एक बहुत बड़ा वर्ग जो कि महाराज निषाद राज के वंशज है आज भी माँ गंगा और सभी पवित्र नदियों की सेवा में रत रहते है, निश्चय ही इनके बगैर नदियों की अविरलता और निर्मलता संभव नहीं है। कार्यक्रम के विशिष्ट अतिथि स्वामी हरी नारायण जी, प्रान्त सह संरक्षक, गंगा समग्र ने कहा कि महाराज निषाद राज जी की जीवन हम सभी को एक सीख देता है जो निष्छल भाव से प्रकृति की सेवा करता है ऐसे लोगो को स्वयं इश्वर भव-सागर से पार लगा देते है । इस अवसर पर गंगा समग्र जिले के पालक शिव प्रकाश जी ने कहा की प्रभु श्री राम और निषाद राज जी का गंगा किनारे का प्रसंग निश्चय ही हम सभी प्राणियों में सामाजिक समरसता और समानता का एक अनुपम उदाहरण है। कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे डॉ कंचन सिंह जी, जिला संरक्षक ने कहा कि नदियों एवं अन्य जल श्रोतो की अविरलता और निर्मलता की परिकल्पना बगैर समाज के जाग्रति हुए बगैर संभव नहीं है । ऐसे में नदियों के किनारे रहने वाले महाराज निषाद राज के वंशजो को आगे आना होगा जिससे भविष्य में आने वाले जल संकट से निपटा जा सकेगा। गंगा समग्र के जिला संयोजक भृगुनाथ पाठक ने समाज के सभी लोगो से आग्रह किया कि इस पुनीत एवं पावन कार्य में अपना पूर्ण सहयोग दे । इस अवसर पर माँ गंगा की भव्य आरती चन्दन जी ने सभी गणमान्य अतिथियों के द्वारा कराया। कार्यक्रम के अंत में कार्यक्रम के संयोजक रहे डॉ कमलेश निषाद ने निषाद समाज से उपस्थित सभी अतिथियों का परिचय कराते हुए मंचस्थ अतिथियों द्वारा अंगवस्त्र एवं माला पहनाकर उनका आभार प्रकट किया । कार्यक्रम का संचालन डॉ अभिषेक श्रीवास्तव, सह प्रान्त संयोजक गंगा समग्र ने किया। आये हुए सभी अतिथियों का धन्यवाद ज्ञापन अतुल जयसवाल ने किया। कार्यक्रम की पूर्ण व्यवस्था डॉ संजीव मौर्या सह जिला संयोजक, दीपक श्रीवास्तव संचार और मीडिया प्रमुख, और विवेक पाठक ने किया। इस अवसर पर अवनीश उपाध्याय, अमित श्रीवास्तव, नारायण चौरसिया, अतुल सिंह, अवधेश गिरी, रमेश पाण्डेय, चन्द्र प्रकाश पाण्डेय, डॉ अनिल सिंह, डॉ अखिलेश पाण्डेय, मोती लाल समेत सभी कार्यकर्त्ता रहे ।उक्त जानकारी दीपक श्रीवास्तव संचार और मीडिया प्रमुख द्वारा दिया गया।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments